Posted By wpadmin
जिसका विरोधियों को था डर, होने जा रहा है वही, मोदी सरकार ने कहा कि कश्मीर में…

जम्मू-कश्मीर में भारतीय जनता पार्टी के महबूबा मुफ़्ती की पीडीपी सरकार से समर्थन वापस लेने के बाद देश में राजनीतिक गहमागहमी तेज हो गई है. इस गठबंधन को तोड़ते हुए भाजपा ने इसके पीछे बहत से कारण भी बताए. भाजपा का कहना है कि महबूबा मुफ्ती सरकार चलाने में विफल रहीं और राज्य में आतंकवाद बढ़ गया, इसलिए उन्होंने समर्थन वापस लिया. वहीँ इस मामले को लेकर मोदी सरकार में केन्द्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद का बड़ा बयान सामने आया है. रविशंकर प्रसाद ने धारा 370 पर बयान देते हुए सबको चौंका दिया है. इस बयान को जानने के बाद आप भी हक्के-बक्के रह जाओगे.

Source

देश के कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि “भाजपा के लिए देश हित, देश की अखंडता और सुरक्षा सबसे बड़ा संकल्प है.” इसी के साथ उन्होंने आगे कहा कि सरकार रहे या न रहे, हमने सहयोग करने की पूरी कोशिश की और मोदी सरकार की ओर से जम्मू-कश्मीर को एक लाख अस्सी हजार करोड़ का पैकेज दिया.

Source

रविशंकर प्रसाद ने कहा कि राज्य की सुरक्षा के मामले में मुफ्ती सरकार को जितना सहयोग करना चाहिए था उन्होंने उतना नहीं किया. अगर सेना और पुलिस को छूट दी जाए तो वो किसी को भी पकड़ सकते हैं. रविशंकर प्रसाद ने यह भी कहा कि धारा 370 हमारे घोषणा पत्र में शामिल है और 370 में परिवर्तन भी होगा वहीँ राम मंदिर के मुद्दे पर उन्होंने कहा कि  राम मंदिर भी अवश्य बनेगा.रविशंकर प्रसाद के बयान से तो यही लगता है कि सरकार ने महबूबा से गठबंधन तोड़ने के बाद धारा 370 पर ध्यान देना शुरू कर दिया है.

Source

बिहार को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में रविशंकर प्रसाद ने कहा कि “बिहार को कश्मीर से न जोड़ा जाए. नीतीश कुमार से हमारा संबंध पुराना है. बिहार में हमारा गठबंधन मज़बूत है. केंद्र में भी साथ काम करना है.”

जिस तरह से जम्मू-कश्मीर में भाजपा ने महबूबा मुफ़्ती की सरकार से समर्थन वापस ले लिया है उससे क्या लगता है अब धारा 370 पर मोदी सरकार को फैसला लेना चाहिए या नहीं. इस पर आप अपनी प्रतिक्रिया हमें कमेंट कर दे सकते हैं. 

Source